जानिये सीएम धामी ने हल्द्वानी मे किससे कहा, “अब बातें कम काम ज्यादा” पढ़िये पूरी खबर…

हल्द्वानी: वर्तमान में मानसून का समय आपदा को लेकर बेहद चुनौतीपूर्ण है। भू-स्खलन, सड़कें टूटने आदि से काफी नुकसान होता है। इस आपदाकाल में पर्वतीय क्षेत्रों में समय पर दवा, राशन पहुंचाना और बिजली-सड़क कनेक्टिविटी बहाल रखना सबसे महत्वपूर्ण है। अब बातें कम काम ज्यादा हो सके, इस पर प्रदेश सरकार फोकस कर रही है। यह बात सीएम पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को हल्द्वानी में मीडिया से कही।

गौलापार स्थित सर्किट हाउस में सीएम धामी ने आपदा प्रबंधन, कानून व्यवस्था और विकास कार्यों के संबंध में समीक्षा बैठक की। जिसके बाद उन्होंने मीडिया से वार्ता करते हुए कहा कि सभी अधिकारियों से व्यवस्थाएं चाक-चौबंद रखने को कहा गया है। जो भी कमी है उसे अगली बैठक तक ठीक करने के निर्देश दिए हैं। कहा कि आपदा प्रबंधन को लेकर उन्होंने बीते माह जून में भी बैठक ली थी। उसी के रिव्यू के लिए ये समीक्षा बैठक बुलाई गई थी। विकास कार्य समय पर हों और आपदा काल में कम से कम नुकसान राज्य और यहां की जनता को उठाना पड़े, इसके पूरे प्रयास किए जा रहे हैं।

सीएम ने कहा कि केंद्र से लेकर राज्य तक भाजपा सरकार की एक अनोखी कार्यसंस्कृति रही है। इसी कार्यसंस्कृति को अपनाकर योजनाओं पर अमल करने की हिदायत उन्होंने समीक्षा बैठक में अफसरों को दी है। जीएसटी कलेक्शन में पिछड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि राज्य का जीएसटी कलेक्शन कैसे बेहतर हो सके उस पर भी काम किया जा रहा है। इस दौरान विधायक कालाढूंगी बंशीधर भगत, विधायक भीमताल राम सिंह कैड़ा, विधायक नैनीताल सरिता आर्य, मेयर हल्द्वानी डॉ. जोगेंद्र सिंह रौतेला, कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत, डीआईजी नीलेश आनंद भरणे, जिलाधिकारी धीराज सिंह गब्र्याल, एसएसपी पंकज भट्ट आदि मौजूद रहे।

Related Posts