गोद लेकर, माँ ने बेटे को बड़े नाज़ से पाला, समझाने पर उसी बेटे ने माँ को जान से मार डाला…

अमरोहा :  यूपी के अमरोहा की औद्योगिक नगरी गजरौला में दिनदहाड़े सनसनीखेज वारदात को अंजाम दिया गया। जिस मां ने अपने बेटे को जन्म तो नहीं दिया लेकिन, 25 साल उस पर ममता न्योछावर करके उसे बच्चे से जवान बनाया। दुनिया में सिर उठाने लायक बनाया। उसी गोद लिए बेटे ने मां की बेरहमी से जीवन लीला समाप्त कर दी। गजरौला थाना क्षेत्र के गांव सलेमपुर गोसाई में दिनदहाड़े गोद लिए एक बेटे  ने बुजुर्ग मां पर ईंट और डंडे से हमला किया। फिर धारदार हथियार से वार करके मां की हत्या कर दी। मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने हत्यारोपित को भी पकड़ लिया और फिर पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने मौके से घटना में प्रयुक्त ईंट व डंडे को भी बरामद कर लिया है।

गांव में मंदिर के सामने वाली गली में विजय कुमार अपनी 55 वर्षीय पत्नी मुन्नी देवी के साथ रहते हैं। इनके पास कोई संतान न होने की वजह से विजय कुमार ने अपने छोटे भाई रोहतास का पुत्र बचपन में गोद ले लिया था। फिर उसका नाम रोहित रखा। बचपन से पालकर रोहित को 25 वर्ष तक पहुंचा दिया। अब रोहित गलत संगति में पड़ने लगा तो विजय कुमार व मां मुन्नी उसे समझाने में लगे रहे थे। इस क्रम में मंगलवार की सुबह विजय कुमार खेत पर चले गए और घर पर रोहित व मुन्नी देवी थे। दोपहर करीब डेढ़ बजे भी किसी बात को लेकर माँ मुन्नी देवी व बेटे रोहित में कोई कहासुनी हो गई।

इसके बाद गुस्साए बेटे ने बुजुर्ग मां के साथ मारपीट करते हुए धारदार हथियार, ईंट व डंडे से वार कर इतनी बुरी तरह पीटा की उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना के दौरान चीख-पुकार सुनकर आसपास की महिलाएं मौके पर पहुंची तो उन्होंने देखा कि हत्यारोपित रोहित के हाथ व कपड़े खून से सने हुए थे।

शोर-शराबा होने पर आसपास के लोगों की भीड़ जुट गई और उन्होंने हत्यारोपित रोहित को पकड़ लिया। सूचना मिलने पर पुलिस भी पहुंच गई और हत्यारोपित को मौके से थाने भिजवा दिया। उधर पुलिस ने घटनास्थल से खून से सनी ईंट व डंडा भी बरामद किया है। पुलिस क्षेत्राधिकारी अरुण सिंह ने बताया कि घटनास्थल का मौका मुआयना किया है। आरोपित बेटा भी पुलिस हिरासत में है। मामले की छानबीन की जा रही है।

Related Posts