बेटा नहीं होने पर किया गया उत्पीड़न, नजीबाबाद की मनदीप कौर ने न्यूयार्क में कर लिया सुसाइड, देखें सुसाइड से पहले बनाया गया VIDEO …

नई दिल्ली/नजीबाबाद: वर्तमान आधुनिक दौर और न्यूयार्क जैसे शहर में पुत्र नहीं होने पर मनदीप कौर को इतना प्रताड़ित किया गया कि उसने आत्महत्या कर ली। दो पुत्रियों की मां 30 वर्षीय मनदीप को उसके पति और अन्य ससुरालियों ने वर्षों तक यातना दी। वे उससे पुत्र चाहते थे। खुदकुशी की इस घटना ने अमेरिका सहित पूरी दुनिया को हिलाकर रख दिया है। इंटरनेट मीडिया प्लेटफार्मो पर मनदीप को न्याय दिलाने के लिए अभियान छेड़ दिया गया है। अमेरिकी पुलिस ने इसे हत्या मानते हुए जांच शुरू कर दी है। भारतीय वाणिज्य दूतावास ने भी घटना पर दुख जताते हुए मदद का भरोसा दिया है। बता दें कि मरने से पहले उसने मार्मिक वीडियो स्वजन को भेजकर आपबीती बताई थी।

शव लाने के लिए परिवार ने भारत सरकार से मांगी मदद

इधर बेटी को खोने से टूट चुके परिवार ने भारत सरकार से मनदीप का शव लाने और उसकी दोनों बेटियों की कस्टडी दिलाने की मदद मांगी है। बिजनौर जिले के नजीबाबाद के ताहरपुर गांव निवासी जसपाल सिंह की पुत्री मनदीप का विवाह 2015 में पड़ोस के गांव बड़िया निवासी रणजोधवीर सिंह संधू से हुआ था। संधू अमेरिका में ट्रक चलाता था। मनदीप ने बीते तीन अगस्त को न्यूयार्क के रिचमंड हिल स्थित अपने आवास पर फांसी लगा ली।

पांच अगस्त को जसपाल ने नजीबाबाद पुलिस स्टेशन में संधू के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने और घरेलू हिंसा में पति, ससुर, मां, भाई के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। उन्होंने कहा कि मीडिया के माध्यम से हम भारत सरकार से मनदीप का शव न्यूयार्क से भारत लाने में मदद मांग चुके हैं। हम धेवतियों अलीशा और अमरीन की सुरक्षा और उनकी वतन वापसी की भी मांग कर रहे हैं।

कलेजे को चीर रहीं बच्चियों की चीखें

घर के सीसीटीवी कैमरे से ली गई वीडियो क्लिप इंटरनेट मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्म पर वायरल हो रही है। इसमें मां के साथ हो रही दरिंदगी को देखते हुए मनदीप की छह और चार वर्ष की बेटियां पंजाबी में बोल रही हैं- पापा, न मारो मम्मा नूं..। यह बात कलेजे को चीर रही है। वीडियो क्लिप में इस दृश्य को देखकर रोष जताते हुए कई कमेंट आ रहे हैं। एक अन्य वीडियो में मनदीप कह रही है कि उसने आठ साल तक पति के विवाहेत्तर संबंध और नशे की हालत में रोजाना मारपीट को इस उम्मीद में सहा कि एक दिन वह बदल जाएगा। लेकिन, अब मैं रोज मारपीट नहीं सह सकती। पति और ससुराल वालों पर आत्महत्या करने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाते हुए कहती है कि पिताजी, मैं मरने वाली हूं, कृपया मुझे क्षमा करें।

भाई बोले, दुनियाभर से मिल रहा समर्थन

मनदीप के बड़े भाई संदीप सिंह ने कहा, फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम सहित विभिन्न प्लेटफार्मों पर मनदीप को इंसाफ दिलाने के लिए रोजाना लाखों कमेंट आ रहे हैं। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के पूर्व अध्यक्ष एवं भाजपा नेता मनजिंदर सिंह सिरसा, पंजाब में महिला संगठनों की प्रमुख मनीषा गुलाटी, फिल्म इंडस्ट्री की हस्तियों नीरू बाजवा, सरगुण मेहता सहित देश-दुनिया की अनगिनत बड़ी शख्सीयतें भी उनके साथ न्याय की कतार में खड़े दिखाई दे रही हैं। बहन कुलदीप कौर के मुताबिक मनदीप शादी के बाद से ही आठ वर्ष से प्रताड़ना सह रही थी। ससुराल वाले उससे बेटा चाहते थे और पचास लाख रुपये दहेज की मांग कर रहे थे। न्यूयार्क में द कौर मूवमेंट एवं वूमेन वेलफेयर एसोसिएशन की इकाइयों के अलावा न्यूयार्क वासियों और वहां के सिख संगठनों का रोष इंटरनेट मीडिया पर छाया हुआ है। ट्विटर, फेसबुक और इंस्टाग्राम पर कई देशों के लोग अभियान चलाकर इंसाफ मांग रहे हैं। न्यूयार्क के रिचमंड हिल स्थित मनदीप के घर के बाहर भी लोगों ने प्रदर्शन किया। पंजाब के कुछ कार्यकर्ता बिजनौर में भी गए और उसके परिवार से मिले।

साभार – दै0 जा0 

Related Posts